October 19, 2019

दिल्ली में आम आदमी पार्टी की सरकार ने दिवाली से पहले शानदार तोहफा देते हुए खिलाड़ियों के लिए पहले से बनाई गई नीति में संशोधन किया है, सोमवार को बुलाई गई केजरीवाल कैबिनेट की बैठक में इस संशोधन को मंजूरी भी दे दी गई। बकायदा एक महीने में अंदर इसके लिए सरकार की तरफ से नोटिफिकेशन जारी किया जाएगा। यानी इस नोटिफिकेशन के जारी होने के बाद राजधानी के खिलाड़ियों को दिल्ली सरकार की तरफ से सरकारी नौकरी मिलने लगेगी। इसके अलावा अब तक जो खिलाड़ियों को सम्मान राशि दी जाती थी, उसमें भी सरकार ने इजाफा किया है। अब दिल्ली सरकार अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिता में कांस्य पदक जीतने वाले खिलाड़ी को 50 लाख, सिल्वर मेडल जीतने वाले खिलाड़ी को 75 लाख और स्वर्ण पदक जीतने वाले खिलाड़ी को एक करोड़ का पुरस्कार देगी। बकायदा दिल्ली सरकार ऐसे खिलाड़ियों को बढ़े हुए राशि से सम्मानित भी कर रही है जिन्होंने खेलों के जरिए मेडल जीते हैं।

दिल्ली के खिलाड़ियों की बल्ले-बल्ले

दिल्ली के मुख्यमंत्री  अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को ट्वीट किया, “कैबिनेट ने उन खिलाड़ियों को दिल्ली सरकार में नौकरी देने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है, जिन्होंने खेल जगत में बेहतरीन प्रदर्शन किया है। इस नियम को एक माह के भीतर अधिसूचित किया जाएगा।” उधर,  दिल्ली के खिलाड़ियों को सरकारी नौकरी देने के फैसले पर आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता और उत्तर-पूर्वी लोकसभा प्रभारी दिलीप पाण्डेय ने खुशी जताई दी है। उऩ्होंने कहा कि, “राजधानी दिल्ली के उऩ सभी प्रतिभाशाली खिलाड़ी को केजरीवाल सरकार की तरफ से बेहतरीन दीवाली तोहफा है जिन्होंने अपनी कड़ी मेहनत और लगन से ना सिर्फ दिल्ली का बल्कि पूरे देश का नाम रोशन किया है। माननीय मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जी ने कहा कि था हर खिलाड़ी के मन में रहता है कि खेलों के बाद उनकी आगे की रोजी-रोटी कैसे चलेगी। आम आदमी पार्टी की सरकार ने दिल्ली के खिलाड़़ियों के मन की बात और उनकी भविष्य में होने वाली चिंताओं को हमेशा के लिए खत्म करने के लिए सरकारी नौकरी की व्यवस्था की है”। सरकार के इस ऐतिहासिक फैसले के बाद दिल्ली के अन्य बच्चों को भी खिलाड़ी बनने के लिए प्रोत्साहन मिलेगा”।

नॉर्थ-ईस्ट लोकसभा प्रभारी दिलीप पाण्डेय ने जताई खुशी

आम आदमी पार्टी की तरफ से मीडिय़ा को जारी बयान में कहा गया है कि दिल्ली की केजरीवाल सरकार का लक्ष्य है कि राजधानी के ज्यादा से ज्यादा बच्चे खेल में रुचि लें और खिलाड़ी बने। बकायदा इसलिए दिल्ली सरकार ने खेल नीति बनाई है। दिल्ली सरकार की इस खेल नीति बनाने में दिलीप पाण्डेय का बहुत बड़ा योगदान है। दिलीप पाण्डेय खुद भी तीरंदाज रहे हैं लिहाजा उन्हें खेलों से बहुत लगाव है। दिल्ली सरकार की तरफ से मेडल जीतकर लाने वाले खिलाड़ियों को उनके इलाके में सम्मानित करने का फैसला भी दिलीप पाण्डेय का प्रयास है। इसके अलावा दिल्ली सरकार की तरफ से ऐसे प्रतिभाशाली बच्चों को बचपन से ही आर्थिक मदद दी जाएगी, ताकि बेहतर प्रशिक्षक की मदद से वे आगे बढ़ सकें। दिल्ली सरकार ने 14 साल से कम उम्र के प्रतिभाशाली खिलाड़ी के लिए हर साल दो लाख की सहायता राशि देने का फैसला किया है। इसका निर्णय खिलाड़ियों की विशेष समिति करेगी। इसी प्रकार 14-17 साल की उम्र में उसको आने-जाने और खेलने के लिए 3 लाख, 17 से ऊपर की उम्र में देश और दिल्ली का नाम रोशन करता है और रैकिंग में है तो ऐसे खिलाड़ियों को हर साल 16 लाख रुपये की मदद दी जाएगी।

 

गौरतलब है कि दिल्ली सरकार ने इस साल अगस्त में ओलम्पिक खेलों, एशियाई खेलों और राष्ट्रमंडल खेलों में उपलब्धियां हासिल करने वाले खिलाड़ियों की पुरस्कार राशि में भी बढ़ोतरी की घोषणा की थी।

Uma Shanker

View all posts

Add comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

FactNews Polls

जस्टिस लोया की मौत मामले की जांच क्या केंद्र सरकार के दायरे से बाहर रहनी चाहिए?

View Results

Loading ... Loading ...

Facebook

FactNews LIVE

News with Facts
FactNews LIVE
FactNews LIVE1 week ago
पूर्वांचलियों पर क्या बयान दिया था अरविंद केजरीवाल ने? क्या है पूरा बयान? कौन फैला रहा है अधूरे बयान और उसके झूठ को?

Watch this video on Youtube also- https://www.youtube.com/watch?v=qDVi9u61CkM&t=13s
FactNews LIVE

Twitter

10 months ago
Dy. CM Manish Sisodia latest PC on Late PM Rajeev Gandhi issue https://t.co/lOiE72Z77h via @YouTube
10 months ago
Opposition Slams Modi Govt. on Monitoring Data Issue https://t.co/Zol0FgUKzt via @YouTube
10 months ago
Delhi High Court order herald house vacant befor 2 Week https://t.co/lzEp8ipJKc via @YouTube