May 27, 2019

भारत के राजनैतिक इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ जब गुरुग्राम में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ‘स्कूल-अस्पताल रैली’ करके सबको चौंका दिया। इस रैली की खास बात ये रही कि मुख्यमंत्री स्कूल-अस्पताल कैसे बेहतर होंगे इसपर खुलकर बात की। देश में ईमानदार और सकारात्मक राजनीति को मजबूत करने के इरादे से चुनाव लड़ रही आम आदमी पार्टी बिजली, पानी, शिक्षा, रोजगार, स्कूल-अस्पताल को मुद्दा बना रही है जबकि दूसरे राजनीतिक दल हिन्दू-मुस्लिम, मंदिर-मस्जिद के नाम पर चुनाव लड़ रही है। आम आदमी पार्टी की इस इमानदार कोशिश की हर कोई सराहना कर रहा है। ये राजनीति के साथ-साथ भारतीय लोकतंत्र के लिए भी शुभ संकेत है।

गुरुग्राम में स्कूल-अस्पताल रैली

अबतक आपने हुंकार रैली, विकास रैली, सद्भावना रैली ना जाने किस-किस नाम की रैली होते देखी थी लेकिन क्या आपने कभी किसी राजनीति दल को स्कूल-अस्पताल रैली करते हुए देखा था। आम आदमी पार्टी ने मुद्दा बदलकर स्कूल-अस्पताल रैली करके अच्छी शुरुआत की है। ऐसे में सवाल उठता है कि क्या दूसरे राजनीतिक दल भी आम आदमी पार्टी के नक्शेकदम पर चलने का प्रण लेकर मंदिर-मस्जिद की राजनीति छोड़ेंगे। आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने गुरूग्राम की स्कूल-अस्पताल रैली में दिल्ली की तर्ज पर हरियाणा में भी बदलाव लाने की बात कही। उन्होंने कहा कि हम हवा में बात नहीं करते, हमने दिल्ली की अस्पताल की हालत ठीक की है, हरियाणा में आम आदमी पार्टी की सरकार बनी तो नए स्कूल खोलेंगे, यहां भी दिल्ली की तरह अच्छे स्कूल बनेंगे”।

‘दिल्ली की तर्ज पर बदलेंगे हरियाणा’

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पिछले दिनों हरियाणा के सरकारी स्कूलों का दौरा किया और जर्जर स्कूल को लेकर जमकर सीएम मनोहर लाल खट्टर को ललकारा था। बकायदा केजरीवाल ने सीएम मनोहर को पत्र लिखकर दिल्ली के मोहल्ला क्लिनिक देखने का न्योता दिया था, जिसका सीएम खट्टर द्वारा जवाब न मिलने पर केजरीवाल ने फिर से एक पत्र लिखा है। पत्र में उन्होंने हरियाणा के स्कूल और क्लिनिक में जाने की बात कही। केजरीवाल ने अपने खत में लिखा है, ‘मुझे इस बात की बेहद खुशी है कि आप मोहल्ला क्लिनिक देखने आ रहे हैं। देश की राजनीति के लिए ये शुभ संकेत है। आज तक इस देश की राजनीति जाति और धर्म के नाम पर चलती थी, अब ये बदलेगा और लोग स्कूल-अस्पताल के नाम पर वोटिंग करेंगे। हालांकि अभी तक सीएम मनोहर लाल खट्टर दिल्ली के सरकारी स्कूल और मोहल्ला क्लीनिक देखने नहीं पहुंचे”। सीएम केजरीवाल बार-बार कहते हैं कि दिल्ली में जब स्कूलों, अस्पतालों की हालत सुधर सकती है तो हरियाणा और देश के बाकि राज्यों में क्यों नहीं ? यहां पर आपको बता दें कि मार्च में लोकसभा चुनाव और एक साल बाद हरियाणा में विधानसभा चुनाव होने है।

Uma Shanker

View all posts

Add comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

FactNews Polls

जस्टिस लोया की मौत मामले की जांच क्या केंद्र सरकार के दायरे से बाहर रहनी चाहिए?

View Results

Loading ... Loading ...

Facebook

FactNews LIVE

News with Facts
FactNews LIVE
FactNews LIVE was live.5 months ago
Congress President Rahul Gandhi interaction with media after Parliament proceedings
FactNews LIVE

Twitter

5 months ago
Dy. CM Manish Sisodia latest PC on Late PM Rajeev Gandhi issue https://t.co/lOiE72Z77h via @YouTube
5 months ago
Opposition Slams Modi Govt. on Monitoring Data Issue https://t.co/Zol0FgUKzt via @YouTube
5 months ago
Delhi High Court order herald house vacant befor 2 Week https://t.co/lzEp8ipJKc via @YouTube